Good Friday in Hindi – गुड फ्राइडे क्यों मनाते है और इसका क्या मतलब है?

good friday in hindi e0a497e0a581e0a4a1 e0a4abe0a58de0a4b0e0a4bee0a487e0a4a1e0a587 e0a495e0a58de0a4afe0a58be0a482 e0a4aee0a4a8e0a4be

Good Friday in Hindi के इस आर्टिकल में आज में आपको Good friday historical past, तिथि की गणना और इससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी बताऊंगा.

गुड फ्राइडे जिसको होली फ्राइडे (Holi Friday), ग्रेट फ्राइडे (Nice Friday) और ब्लैक फ्राइडे (Black Friday) के नाम से भी जाना जाता है.

-विज्ञापन-

Good friday festival इसाई धर्म के लोगो के लिए बहुत ही पवित्र त्यौहार है. गुड फ्राइडे का त्यौहार इसाई घर्म के लोगो द्वारा मनाया जाता है.

कैलवरी में ईसा मसीह को सलीब पर चढ़ाने के कारण हुई मृत्यु के उपलक्ष्य में गुड फ्राइडे फेस्टिवल मनाया जाता है.

यह त्यौहार पवित्र सप्ताह के दौरान मनाया जाता है. गुड फ्राइडे का पर्व ईस्टर सन्डे (easter Sunday) से पहले आने वाले शुक्रवार को आता है और इसका पालन पाश्कल ट्रीडम के अंश के तौर पर किया जाता है जो की अक्सर यहूदियों के पासोवर (passover) के साथ पढ़ता है.

सन्हेद्रिन ट्रायल ऑफ़ जेसुस के अनुसार भगवान यीशू का क्रुसिफिकेशन संभवतः किसी शुक्रवार के दिन किया गया था.

दो अलग-अलग वर्गों के अनुसार गुड-फ्राइडे का वर्ष AD 33 है, परन्तु आइजक न्यूटन ने बाइबिल एंड जूलियन कैलेंडर के बीच में अंतर और चाँद के आकार पर गणना की गई है की वह वर्ष AD 34 हैं.

-विज्ञापन-

Good Friday in Hindi – गुड फ्राइडे इन हिंदी

पवित्र और महान फ्राइडे की चर्च प्रात: और वंदनाएं : महान फ्राइडे की बाइज़ैंटीनी ईसाई रीति जिसको औपचारिक तौर पर द आर्डर ऑफ़ होली एंड सेविंग पैशन ऑफ़ आवर लोर्ड जेसस क्राइस्ट‘ की स्टार्टिंग गुरुवार की रात को “माटीन्स ऑफ़ द ट्वेल्व पैशन गोस्पेल्स” के साथ होती हैं.

जोकि चर्च वंदना की सर्वत्र बिखरी हुई सेवाएँ और सभी चार धर्मिक शिक्षाओं से बारह पठन जो की यीशू के लास्ट सपर और सूली पर चढाने तक की धटनाओ को याद दिलाता है.

यहा पर बारह पठन है और इन बारह पठनो में पहला और सबसे बड़ा एवम महत्वपूर्ण John 13:31-18:1 पठन है.

इस छठे धार्मिक उपदेश पठन के ठीक पहले ही, यीशू को क्रूस पर किलो से गाड़े जाने की कहानी को स्मरण कराता है;

-विज्ञापन-

इस दिन सभी भक्त मोम्बतियों और अगरबतियों को लेकर एक बड़े क्रॉस पवित्र स्थान से पादरी द्वारा निकल जाते है और सुरंग के केंद्र में स्थापित कर दिया जाता है (जहा पर सभी भक्त इकठ्ठा होते है).

इस दिन सभी भक्त यीशू की याद में गाना भी गाते है.

आज वह जिसने पृथ्वी को जल पर लटकाया; क्रूस पर लटका है (तीन बार)
वह जो देवदूतों का राजा है, कांटो के ताज से सजा है।
वह जो स्वर्ग को बादलो में लपेटे है, उपहास के जामुनी रंग में लिपटा है।
वह जिसने एडम को जार्डन में स्वतंत्र किया, अपने चेहरे पर आघात सहता है।
चर्च के दूल्हे का नाखून छेद दिया गया है।
वर्जिन के बेटे को भाला भोंक दिया गया है।
हे यीशु, हम तेरे जुनून का सम्मान करते हैं (तीन बार).
अपने गौरवपूर्ण पुनरुज्जीवन का पथ हमें भी दिखाओ

सभी भक्त सेवा करते समय क्रॉस पर लटके यीशू भगवान के पैर को चूमते हैं. प्रतिष्ठाखण्ड के बाद, एक छोटी भजन स्तुती, द वाइज थीफ‘ उन गायकों के द्वारा गायी जाती है.

तिथि की गणना

Good friday easter के पहले का फ्राइडे है, जोकी पूर्वी ईसाईयत और पश्चिमी ईसाईयत में अलग तरीकों से गिना जाता है.

(कंप्यूटर को अच्छे से देखिए) ईस्टर पास्कल पूर्ण चंद्रमा जो 21 मार्च के दिन या फिर उसके बाद की तारीख होती है, के बाद आने वाले सबसे प्रथम सन्डे को पड़ता है.

पश्चिमी गणना जोर्जियन कैलेंडर का उपयोग करती है, जबकि पूर्वीय गणना जुलियन कैलेंडर का, जिसका 21 मार्च जोर्जियन कैलेंडर के three अप्रैल से मेल खाता है.

इसमें पूर्ण चंद्रमा के तारीख को निश्चित करने के तरीके भी अलग होते हैं। ईस्टर तारीख गणना के नियम देखिये (दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया का खगोलीय समाज).

20 और अप्रैल 25 के बीच पूर्वी ईसाईयत में, जूलियन कैलेंडर के अनुसार ईस्टर पढ़ता है (इस तरह अप्रैल four से मई eight के बीच; 1900 और 2099 की अवधि के दौरान जोर्जियन कैलेंडर में).

इसलिए Good Friday Date 20 मार्च से 23 मार्च के बीच में हो सकता है, संयुक्त: (जोर्जियन कैलेंडर के अनुसार 2 अप्रैल और 6 मई के बीच.

अगर आपको Good friday in hindi के इस आर्टिकल से रिलेटेड कुछ भी हमारे साथ शेयर करना है तो आप कमेंट के माध्यम से हमारे साथ शेयर कर सकते हो.

जितना हो सके इस आर्टिकल को अपने सभी दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्विटर, गूगल+ और व्हाट्सएप्प पर शेयर करें.

(Visited 1 times, 1 visits today)

You May Also Like

, d35d26570c20e70f6bf43f8c0a0cb10c?s=120&d=mm&r=g

About the Author: harshit@12345

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *